फूड लाइसेंस के नाम पर बंद होगी धनउगाही, सहायक आयुक्त खाद्य से मिले व्यापारी

0
178

13 जून। फूड लाइसेंसिंग और पंजीकरण के नाम पर व्यापारियों के उत्पीड़न और उनसे हो रही धन उगाही को लेकर बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के लोग जिलाध्यक्ष आनंद राजपाल के नेतृत्व में सहायक आयुक्त खाद्य ग्रेड-2 अधिकारी से मिले। व्यापारियों ने पूर्व में प्राप्त शिकायतों का संदर्भ लेते हुये जानकारी दी कि फूड लाइसेंस बनवाने के नाम पर व्यापारियों से धनउगाही की जाती है।

उन्हे बेवजह कार्यालय का चक्कर काटने को मजबूर किया जाता है। मांग किया कि कैम्प लगाकर व्यापारियों को सहजता से लाइसेंस जारी किये जायें साथ ही उन्हे इसके फायदे भी बताये जायें। सहायक आयुक्त खाद्य ने प्रकरण को गंभीरता से लेते हुये कैम्पों के आयोजन में व्यापार मंडल से सहयोग मांगा। कहा छोटी छोटी बाजारों, कस्बों में व्यापार मंडल कैम्प लगाकर विभाग का सहयोग कर सकता है। इससे लाइसेंसिंग में आ रही शिकायतें दूर होंगी और लाइसेंसिंग में तेजी भी आयेगी। व्यापारियों को लाइसेंस के लिये आधार की फोटो कॉपी, एक फोटो और मोबाइल नम्बर देना होगा। सहायक आयुक्त खाद्य से मुलाकात करने वालों में प्रमुख रूप से महामंत्री सूर्यकुमार शुक्ल, सुनील कुमार गुप्ता, धर्मेन्द्र कुमार चौरसिया, अदालत प्रसाद, योगेश गुप्ता, शम्भूनाथ गुप्ता आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here